Tremendous infidelity shayari 2020 – जबरदस्त बेवफाई शायरी 2020

Tremendous infidelity shayari 2020, best collection of Bewafa Shayari, Bewafa Status, Bewafa Shayari in SMS, girlfriend love shayari.

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है इस साइट पर दोस्तों आज हम Tremendous infidelity Shayari 2020 – जबरदस्त बेवफाई शायरी 2020, बे-वफ़ा शायरी, बेवफा लव शायरी, बेवफा लव स्टेटस, प्यार में बेवफाई शायरी, बेवफा प्रेमी / प्रेमिका शायरी, यह सभी शायरी हम आपको अपने साइट के माध्यम से देंगे।

Tremendous infidelity shayari 2020 - जबरदस्त बेवफाई शायरी 2020

 

This type of poem occurs when the lover breaks the trust of love. We are providing a large collection of latest shayari on Bewafa. Read the best collection of Bewafa Shayari in Hindi, Bewafa Status You can share these Bewafa Shayari in SMS with your girlfriend / boyfriend, Tremendous infidelity shayari 2020.

इस प्रकार की कविता तब होती है जब प्रेमी प्रेम के भरोसे को तोड़ता है। हम बेवफा पर नवीनतम शायरी का एक बड़ा संग्रह प्रदान कर रहे हैं। बेवफा शायरी का सबसे अच्छा संग्रह हिंदी में पढ़ें, बेवफा स्टेटस आप इन बेवफा शायरी को एसएमएस में अपनी प्रेमिका / प्रेमी के साथ साझा कर सकते हैं।

Tremendous infidelity shayari 2020 :

हम उन लोगों की शायरी लिख रहे हैं जिन्हें प्यार में बेवफाई मिली है, इन दिनों प्यार में धोखा मिलना आम हो गया है और आपको इस बेवफाई को अपने दिल से नहीं आने देना चाहिए, हमेशा खुश रहें और अपने दोस्त को बताएं उस बेवफा प्रेमिका के बारे में और अपने जीवन को फिर से एक नया रास्ता दें और एक नए जीवन साथी की तलाश करें, आइए पढ़ते हैं कुछ बेहतरीन बेवफा शायरी।

इल्जाम न दे मुझको तूने ही सिखाई बेवफाई है,

देकर के धोखा मुझे मुझको दी रुसवाई है,

मोहब्बत में दिया जो तूने वही अब तू पाएगी,

पछताना छोड़ दे तू भी औरों से धोखा खायेगी।

Ilzam na de mujhko tune hi sikhaya Bewafa hai

Dekar ke dhokha muze Muzako di Ruswai hai

Mohabbat me diya jo tune wahi ab tu payengi

Pachtana Chod de tu bhi oro se dhokha khayegi.

छोड़ गए हमको वो अकेले ही राहों में,

चल दिए रहने वो औरों की पनाहों में,

शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आई,

तभी तो सिमट गए वो गैर की बाहों में।

Chod gaye humko wo akele hi raho me

Chal diye rahne vo ooro ki panah me

Shayad meri chahat unhe raas nahi aai.

हमसफ़र कोई दूसरा हो जाता है :

जिस किसीको भी चाहो वो बेवफा हो जाता है,

सर अगर झुकाओ तो सनम खुदा हो जाता है,

जब तक काम आते रहो हमसफ़र कहलाते रहो,

काम निकल जाने पर हमसफ़र कोई दूसरा हो जाता है…

Jis Kisiko Bhi chaho vo Be-Wafa ho jata hai.

Sir agar jhukao to sanam khuda ho jata hai…!!

Jab tak kaam aate raho humsafar kahlate raho.

Kaam nikal jane par hamsafar koi dusra ho jata hai….!!

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,

कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,

बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,

आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी

Kabhi gam to kabhi tanhai maar gai.

Kabhi yaad aa kar unki judai maar gai..!!

Bahut tut kar chaha jisko humne,

Akhir mein uski hi Bewafai maar gai…!!

प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना

अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना

वो चाहे लाख नफरत करें तुमसे

पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम न करना।

Pyar me Be-WaFai mile to gam n karna.

Apni aakhe kisi ke liye nam n karna….!!

Vo chahe lakh nafart kare tumse..

Par tum apna pyar kabhi uske liye kam n karna…!!

पानी में आग लगा कर आया हूँ :

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,

ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,

कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,

इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

Be-WaFai uske dil se mita ke aaya hu..

Khat bhi uske paani me baha ke aaya hu…

Koi padh n le us Bewafa ki yaadon ko

Isliye Paani me aag laga kar aaya hu.

प्यार किया था तो प्यार का अंजाम कहाँ मालूम था

वफ़ा के बदले मिलेगी बेवफाई कहाँ मालूम था

सोचा था तैर के पार कर लेंगे प्यार के दरिया को

पर बीच दरिया मिल जायेगा भंवर कहाँ मालूम था

Pyar kiya tha to pyar ka anjam kaha malum tha.

Wafa ke badle milengi Be-WaFai kaha malum tha.

Socha tha tair ke paar kar lenge pyar ke dariya ko

Par bich dariya mil jayenga bhavar kaha malum tha.

Bewafa Shayari Adda : Tremendous infidelity shayari 2020

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जाएँगे

हर एक रिश्ता इस ज़मीन से तोड़े जाएँगे

जितना जी चाहे सतालो यारो

एक दिन रुलाते हुए सबको छोड़ जाएँगे

Ek din hum bhi kafan odh jayenge

Har ek rishtaa is zameen se Tod jayenge

Jitna jee chahe satalo yaro

Ek din Rulate huye sabko chod jayenge

जख्मों को हमने खुद ही सिना सीख लिया है

जीते है कैसे हमने जीना सीख लिया है

अक्सर जो बहते रहते थे आंखों के रास्ते

हमने भी उन अश्कों को पीना सीख लिया है

Jakhmo ke hamne khud hi sina sikh liya hai

Jite hai kaise hamne jina sikh liya hai

Akshar jo bahte rahte the aakho ke raste

Hame me un ashko ko pina sikh liye hai

हर तरफ से कटा पड़ा हूँ मैं

चीथड़ों में बेबस सा सिमट रखा हूँ मैं

क्या गुनाह किया इश्क़ करके मैंने

जो तुम्हारी दुनिया में मरा पड़ा हूँ मैं

Har taraf se kata pada hu mai

Chithdo me bebas sa simv rha hu mai

Kya gunaha kiya eshk karke maine

Jo tumhari duniya me mara pada hu mai

आँखों को उनका इंतेज़ार हैं :

जख़्म इतना गहरा हैं इज़हार क्या करें।

हम ख़ुद निशां बन गये ओरो का क्या करें।

मर गए हम मगर खुली रही आँखे हमारी।

क्योंकि हमारी आँखों को उनका इंतेज़ार हैं।

Zakhm Itna gehra hai izhaar kya kare.

Hame khud nisha ban gaye aoro ka kya kare.

Mar gaye ham magar khuli rahi aankhen hmari

Kyuki hamari aakhe ko unka intejar hai.

ना वो सपना देखो जो टूट जाये,

ना वो हाथ थामो जो छुट जाये,

मत आने दो किसी को करीब इतना,

कि उससे दूर जाने से इंसान खुद से रूठ जाये

Na vo sapna dekho jo tut jaye

Na vo hath thamo jo chut jaye.

Mat aane do kisi ko karib itna

Ki usase dur jane se insan khud se ruth jaye.

दिल के दरिया में धड़कन की कश्ती है,

ख़्वाबों की दुनिया में यादों की बस्ती है,

मोहब्बत के बाजार में चाहत का सौदा है,

वफ़ा की कीमत से तो बेवफाई सस्ती है।

Dil ke dariya me dhadkan ki kashti hai.

Khowbo ki duniya me yaado ki basti hai.

Mohabbat ke bajar me chahat ka sauda hai.

Wafa ki kimat se to Be-WaFai sati hai.

वो खोये नहीं बदल गए थे :

ढूंढ़ तो लेते अपने प्यार को हम,

शहर में भीड़ इतनी भी न थी,

पर रोक दी तलाश हमने,

क्योंकि वो खोये नहीं बदल गए थे।

Dhund to lete apne pyar ko hame.

Shahar me bheed itni bhi n thi

Par rok di talash hamne

kyon ki vo khoye nahi badal gaye the.

मोहब्बत से रिहा होना ज़रूरी हो गया है,

मेरा तुझसे जुदा होना ज़रूरी हो गया है,

वफ़ा के तजुर्बे करते हुए तो उम्र गुजरी,

ज़रा सा बेवफा होना ज़रूरी हो गया है।

Mohabbat se riha hona jaruri ho gaya hai.

Mera tujhse juda hona jaruri ho gaya hai.

Wafa ke tajurbe karte huye ro umar gujari

Jara se Bewafa hona jaruri ho gaya hai.

एक ग़ज़ल तेरे लिए ज़रूर लिखूंगा,

बे-हिसाब उस में तेरा कसूर लिखूंगा,

टूट गए बचपन के तेरे सारे खिलौने,

अब दिलों से खेलना तेरा दस्तूर लिखूंगा।

Yek gajar tere liye zaroor likhunga

Be-Hisab us me tera kasur likhunga

Tut gaye bachpan ke tere saare khilone

Ab dilo se khelna tera dastur likhunga.

खूबसूरत चेहरा वफादार नहीं होता :

हर हीरा चमकदार नहीं होता,

हर समंदर गहरा नहीं होता

दोस्तो जरा संभल कर प्यार करना,

हर खूबसूरत चेहरा वफादार नहीं होता

Har hira chamakdar nahi hota.

Har samandar gahra nahi hota

Dosto jara sambhal kar pyar karna

Har khubsurat chehra Wafadar nahi hota

तेरे इश्क ने दिया सुकून इतना कि,

तेरे बाद कोई अच्छा न लगे…!!

तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर कि,

तेरे बाद कोई बेवफा न लगे…!!

Tere ishq ne diya sakoon itna ki

Tere baad koi acha na lage.

Tujhe karni hai Be-WaFai to is ada se kar ki

Tere baad koi Bewafa na lage.

हर धड़कन में एक राज होता है

बात को बताने का भी एक अंदाज होता है

जब तक ना लगे ठोकर बेवाफाई की

तब तक हर किसी को अपने प्यार पर नाज होता है…!!

Har dhadkan me ye raaj hota hai

Baat ko batane ka bhi ye andaz hota hai

Jab tak na lage thokar Bewafai ki

Tab tak har kisi ko apne pyar par naaz hota hai.

फूल चढाने के बहाने : Tremendous infidelity shayari 2020

पहले जिंदगी छीन ली मुझसे

अब मेरी मौत का भी वो फायदा उठाती है

मेरी कब्र पे फूल चढाने के बहाने

वो किसी और से मिलने आती है

Pahile jindagi chin li muzase

Ab meri mout ka bhi vo Fayda uthati hai.

Meri kabar pe full chadhane ke bahane

Vo kisi or se milne aati hai

बिखरे हुए दिल ने भी उसके लिए फरियाद मांगी

मेरी सांसो ने भी हर पल उसकी खुशी मांगी

जाने क्या मोहब्बत थी उस बेवफा से

कि मैंने आखिरी फरियाद में भी उसकी वफा मंगी

Bikhare huye dil ne bhi uske liye Fariyad mangi

Meri saanson ne bhi har pal uski khushi mangi

Jane kya mohabbat the us Bewafa se

Ki maine aakhri fariyad me bhi uski Wafa mangi

यूँ है सबकुछ मेरे पास बस दवा-ए-दिल नही,

दूर वो मुझसे है पर मैं उस से नाराज नहीं,

मालूम है अब भी मोहब्बत करता है वो मुझसे,

वो थोड़ा सा जिद्दी है लेकिन बेवफा नहीं.

You hai sab kuch mere paas bas dawa Ye-Dil nahi

Dur wo mujhse hai par mai us se naraz nahi

Malum hai ab bhi mohabbat karta hai wo mujhse

Vo thoda sa ziddi hai lekin Bewafa nahi

मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम,

हमने हर दम बेवफाई पायी है,

मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,

हमने हर चोट दिल पे खायी है।

Mat rakh humne WaFa ki umeed ye sanam

Hamne har dam Bewafai pai hai

Mat dhund hamare jism pe zakham ka nishan

Hamne har chot dil pe khai hai

अपने को गैरों की बाहों में देखा :

नफरत को मोहब्बत की आँखों में देखा

बेरुखी को उनकी अदाओं में देखा

आँखें नम हुईं और मैं रो पड़ा

जब अपने को गैरों की बाहों में देखा

Nafrat ko mohabbat ki aankho me dekha

Berukhi ko unki adaao me dekha

Aankhe nam hui or me Ro pada

Jab apne ko gairo ki baho me dekha.

बेवफा से दिल लगा लिया नादान थे हम,

गलती हमसे हुई क्योंकि इंसान थे हम,

आज जिन्हें नज़रें मिलाने में तकलीफ होती है,

कुछ समय पहले उनकी जान थे हम।

Bewafa se dil laga liya nadan the ham

Galti humse hui kyon ki insan the ham

Aaj jinhe najre milane me taklif hoti hai

Kuch samay pahle unki jaan the ham

मेरे कलम से लफ्ज़ खो गए शायद

आज वो भी बेवफा हो गाए शायद

जब नींद खुली तो पलकों में पानी था

मेरे ख्वाब मुझपे रो गए शायद

Meri kalam se lafz kho gaye shayad

Aaj vo bhi Be-Wafa ho gaye shayad

Jab nind khuli to palko me paani tha

Mere khwab mujh pe ro gaya shayad

बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी :

किस-किस को तू खुदा बनाएगी

किस-किस की तू हसरतें मिटाएगी

कितने ही परदे डाल ले गुनाहों पे

बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी

Kis-kisko tu khuda banayenge

Kis-kis ki tu hasrate mitayenge

Kitne hi parde daal le gunahon pe

Bewafa tu Bewafa hai nazar aayegi

ये बेवफा, वफा की कीमत क्या जाने

ये बेवफा गम-ए-मोहब्बत क्या जाने

जिन्हे मिलता है हर मोड पर नया हमसफर

वो भला प्यार की कीमत क्या जाने

Ye Be-Wafa – Wafa ki kimat kya jane

Ye Bewafa – Ye-Mohabbat kya jane

Jinhe milta hai har mod par naya hamsafar

Vo bhala pyar ki kimat kya jane

यह भी पढ़े :

Postscript  – परिशिष्ट भाग

लेख का शीर्षक  – Tremendous infidelity shayari 2020  –  जबरदस्त बेवफाई शायरी 2020

Published By  –  www.BarveTips.com

The tags –  बेवफा शायरी  –  बेवफा प्यार की शायरी  –  अधूरे प्यार की शायरी 

Leave a Reply

https://www.videosprofitnetwork.com/watch.xml?key=bbfecdcc01b94dfff0b88620d1e44491
error: Content is protected !!