Types of traffic signs with road signal chart | आर.टी.ओ. चिन्ह की जानकारी

Road signal chart, Indian street signs, Road safety traffic signs, Importance of road signs, Traffic rules and signs, Traffic signs in india rto, Safety road signs, Traffic signs in india and their meaning, Types of traffic signs.

नमस्कार दोस्तों बर्वे टिप्स में आपका स्वागत है. दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम Types of traffic signs और road signal chart के बारे में जानकारी देंगे. दोस्तों आज हर किसी के पास मोटरबाईक या कार है और सभी को ड्राइविंग का बहुत शौक है, लेकिन क्या आप ट्रैफिक सिग्नल Types of traffic signs के बारे में जानते हैं कि ट्रैफिक सिग्नल traffic signs क्या होते हैं. यदि आपके पास यह जानकारी नहीं है तो आज हम इस लेख के माध्यम से यह जानकारी देने का प्रयास करेंगे.

Types of traffic signs with road signal chart | आर.टी.ओ. चिन्ह की जानकारी

About traffic signs in India :

Traffic signs को समझना आवश्यक है. यातायात संकेत सड़क पर यातायात के मूक संवाहक के रूप में कार्य करते हैं. कोई भी व्यक्ति जिसके पास ड्राइविंग लाइसेंस है और वह वाहन चलाने के योग्य है, उसे यातायात संकेतों का उचित ज्ञान होना चाहिए. सरकार ने किसी भी व्यक्ति के लिए जो ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करना चाहता है, उसे यातायात संकेतों से अच्छी तरह वाकिफ होना अनिवार्य कर दिया है. कई यातायात संकेत हैं और प्रत्येक का अपना उद्देश्य है. विभिन्न यातायात सुरक्षा संकेतों को तीन श्रेणियों में बांटा गया है.

  • यातायात संकेत जो अनिवार्य हैं : Traffic signs that are mandatory
  • यातायात संकेत जो सतर्क हैं : Traffic signs that are alert
  • ट्रैफिक सिग्नल जो जानकारी प्रदान करते हैं : Traffic signals that provide information

Traffic signs and rules of the road : यातायात संकेत और सड़क के नियम

कोई भी वेक्ति जब सड़क पर गाडी चलता है तो उसे Traffic signs and rules of the road का पालन करना पड़ता है. Traffic signs का पालन सभी को करना पड़ता है फिर चाहे वो गाडी चला रहा हो या फिर पैदल जा रहा हो पैदल जानेवाले वेक्ति के लिए भी Traffic signs का पालन करना उतना ही जरुरी है जितना की गाडी चलाने वाले वेक्ति का.

हर इंसान के लिए जो पैदल रोड पर चलता हो या फिर गाडी चलाता हो उस के खुशल रहने के लिए traffic signs and rules of the road का पालन करना जरुरी है. जब भी आप road पर गाडी चलाते हों तब आपको रोड साइड में कुछ चिन्ह नजर आये होंगे ये चिन्ह हमें रोड पर खुशल चलने के लिए मार्गदर्शन देते है और चेतावनी देकर हमारी मदत करते है. कोई भी गाडी ड्राइवर उसके लिए इन सभी चिन्हो की जानकारी लेना बहुत जरुरी है.

Traffic signs in india : Road signs india chart भारत में यातायात संकेत

दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको RTO के कुछ Types of traffic signs के बारे में जानकारी देंगे और अपने आने वाले नए लेख में हम बाकी संकेतों के बारे में चर्चा करेंगे. तो चलिए दोस्तों जानते है Types of traffic signs with road signal chart के बारे में.

  • Stop – रुकिए
  • Give Way – रास्ता दीजिए
  • Tongas prohibited – टांगो का आना मना है
  • Bullock Cart Prohibited – बैलगाड़ी का आना मना है
  • No Entry – प्रवेश निषेद
  • Priority For Oncoming Traffic – आनेवाले यातायात को प्राथमिकता
  • All Motor vehicles Prohibited – सभी मोटार वाहन का आना मना है
  • Truck Prohibited – ट्रक का आना मना है
  • Bullock & Hand Cart Prohibited – बैलगाड़ी और हाथठेलो का आना मना है
Importance of traffic sign : यातायात संकेत का महत्व

Stop – रुकिए : यह चिन्ह हमें बताता है कि हमें वाहन को तुरंत रोक देना चाहिए. इस तरह के संकेत आमतोर पर वर्क इन प्रोग्रेस की जहग पर लगाए जाते है. इस चिन्ह को देखकर हमें अपनी गाड़ी रोक देनी चाहिए क्योंकि यही इस चिन्ह का अर्थ है. जब किसी सड़क का काम शुरू किया जाता है तो वहां यह चिन्ह लगाया जाता है ताकि आने वाली गाड़ी का चालक सतर्क हो जाए, और इतना ही नहीं पुलिस भी अपने बंदोबस में इस चिन्ह का प्रयोग करती है.

Give Way – रास्ता दीजिए : इस चिन्ह का प्रयोग सड़क पर गोलचक्कर की तरह किया जाता है, अर्थात जहाँ पर गोल चक्कर आना-जाना होता है, इस चिन्ह का प्रयोग इस प्रकार किया जाता है. यह चिन्ह हमें सूचित करता है कि हमें अपनी दाहिनी ओर से आने वाले सभी वाहनों को रास्ता देना है. हमें ऐसे चिन्ह पर विशेष निर्देशों का पालन करना होता है.

Tongas prohibited – टांगो का आना मना है : यह चिन्ह हमें बताता है कि टैंगो का आगमन यानि घोड़े की गाड़ी यहाँ वर्जित है. लेकिन यह वाहन कुछ समय पहले हमारे देश में सबसे लोकप्रिय था, बदले हुए समय के सात और नए परिवहन वाहनों के सात इस वाहन को रोक दिया है, हालांकि ऐसे कई गांवों में आज भी इस वाहन का उपयोग किया जाता है.

Importance of traffic signs : signs of road safety

Bullock Cart Prohibited – बैलगाड़ी का आना मना है : यह चिन्ह बताता है कि यहाँ बैलगाड़ी का आना-जाना वर्जित है. बैलगाड़ी एक धीमा वाहन है और आज के गति भरे युग में इस वाहन की बराबरी नहीं की जा सकती, इसलिए कुछ शहरों में इस वाहन के चलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

No Entry – प्रवेश निषेद : यह चिन्ह हमें दिखाता है कि आगे हमारे किसी भी वाहन के लिए कोई प्रवेश नहीं है. ऐसे ही कुछ जगा पर वाहन चलाने पर पाबंदी है, हमें इस चिन्ह का पालन करना चाहिए और अपने आने-जाने का रास्ता बदल कर कहीं और से जाना चाहिए.

Priority For Oncoming Traffic – आनेवाले यातायात को प्राथमिकता : यह चिन्ह हमें बताता है कि हमारे सामने आने वाले सभी वाहनों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए. सड़क के कुछ हिस्सों में जहां से दो वाहनों का गुजरना मुश्किल होता है, ऐसी सड़कों पर हमें पहले आने वाले वाहन को जाने देना चाहिए. यह चिन्ह जिस दिशा में स्थित है, उसी दिशा से जाने वाली गाडी तभी निकलेगी जब सामने से कोई वाहन न आ रहा हो. इस चिन्ह को देखकर हमें traffic signs का पालन करना चाहिए और सामने से आने वाले वाहन का सहयोग करना चाहिए.

Importance of traffic signs : rto traffic signs

All Motor vehicles Prohibited – सभी मोटार वाहन का आना मना है : यह चिन्ह हमें बताता है कि सभी वाहनों का आना मना है. निर्देश दिया जाता है कि बाहर या अंदर से कोई भी वाहन इस परिसर में नहीं आएगा. इस चिन्ह का प्रयोग भीड़ को कम करने के लिए किया जाता है जहाँ ऐसे चिन्ह होते हैं और इतना ही नहीं इस चिन्ह का प्रयोग पैदल चलने वालों के लिए भी किया जाता है.

Truck Prohibited – ट्रक का आना मना है : यह चिन्ह हमें दिखाता है कि ट्रकों का आना मना है. ऐसा चिन्ह भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में होता है जहाँ भारी वाहनों की अनुमति नहीं है, क्योंकि इससे यहाँ के लोगों को नुकसान हो सकता है, इसलिए इस चिन्ह का प्रयोग भीड़-भाड़ वाले जगों पर किया जाता है.

Bullock & Hand Cart Prohibited – बैलगाड़ी और हाथठेलो का आना मना है : यह चिन्ह हमें दिखाता है कि यहा बैलगाड़ी और हाथगाड़ी की अनुमति नहीं है. यह वाहन धीमी गति से चलता है और अन्य वाहनों को चलने में कठिनाई का कारण बन सकता है या इन वाहनों से दुर्घटना हो सकती है, इसलिए इस चिन्ह का उपयोग बैलगाड़ी और हाथगाड़ी को रोकने के लिए किया जाता है.

Rto code list : All india vehicle registration details

दोस्तों हमारे देश में अलग-अलग देशों का अलग-अलग india state code होते है जिसे हम rto parsing कहते है. इस rto no कोड से हमें पता चलता है कि यह गाडी किस राज्य की है. rto list जब हम किसी वाहन का रजिस्ट्रेशन करते हैं तो हमें यह कोड RTO से मिलता है तो दोस्तों आइए जानते हैं list of rto किस राज्य को कौन सा rto code मिला है.

Sr. No.State NameAll india rto code
Andhra PradeshAP
Arunachal PradeshAR
AssamAS
BiharBR
ChhattisgarhCH
GoaGA
GujaratGJ
HaryanaHR
Himachal PradeshHP
१०Jammu & KashmirJK
११JharkhandJH
१२KarnatakaKR
१३KeralaKL
१४Madhya PradeshMP
१५MaharashtraMH
१६ManipurMN
१७MeghalayaML
१८MizoramMZ
१९NagalandNL
२०OdishaOD
२१PunjabPB
२२RajasthanRJ
२३SikkimSK
२४Tamil naduTN

दोस्तों ये 24 राज्य हैं जिन्हें इस तरह rto code किया गया है, लेकिन दोस्तों, यह केवल 24 राज्य नहीं हैं और भी कुछ अन्य राज्य हैं जिन्हें राज्य code दिया गया है, लेकिन दोस्तों, हम आपको उनके बारे में पूरी जानकारी हमारे आने वाले समय में. हम आपको अपने आने वाले लेख में यह बताने की कोशिश करेंगे कि rto code देने के पीछे क्या कारण है.

हमें यकीन है दोस्तों आप हमारे द्वारा दी गई traffic signs जानकारी को समझ गए होंगे, अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं, हम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेंगे. अगर जानकारी पढ़कर आपको कुछ फायदा हुआ है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें.

यह भी पढ़े :

Leave a Reply

https://www.videosprofitnetwork.com/watch.xml?key=bbfecdcc01b94dfff0b88620d1e44491
error: Content is protected !!